खाने को बनाएं पौष्टिक, इन तत्वों से……


साफ फल सब्जियां खरीदना तो एक अच्छी बात है, लेकिन इनका न्यूट्रिशनल कंटेंट भी बना रहे, इसके लिए सब्जियों को सही तरीके पकाना  भी  बेहद जरूरी है।  स्टीम की बजाय ही पत्तेदार सब्जियों को

ऑलिव आयल में हलके से फ्राई करने से एंटी-ऑक्सीडेंट बीटा-केरोटीन को अधिक मात्रा में एब्जॉर्ब कर सकते हैं। आइये जानते हैं इन सात तरीकों से न्यूट्रिशन लेवल को बेहतर बनाने वाली हेल्दी कुकिंग-हैबिट्स के बारे में —

१.  ज्यादा विटामिन्स के लिए गुड फैट्स की मात्रा बढ़ाएं

फल या सब्जियों में ऑलिव आयल, नट्स और फैट के बाकी हेल्दी सोर्स शामिल करने से विटामिन्स ए, ई और के की मात्रा बढ़ाई जा सकती है।  इन सभी न्यूट्रियंट्स से आँखों की रौशनी तेज  होगी ही, साथ ही इम्युनिटी भी बेहतर होगी, दिल को स्ट्रोक से और शरीर को आस्ट्रियोपोरोसिस से महफूज रखा जा सकता है।

२.  लहसुन का सेवन कैंसर से रखेगा बचाव

लहसुन  को खाने में डालने से हमारा शरीर कैंसर से दूर रहेगा।  लहसुन की कलियाँ छीलने के बाद मैश करने

के बाद १०-१५ मिनट के लिए रख दें, फिर पैन  में डालिये।  इस कारण लहसुन में मौजूद पौष्टिक नष्ट नहीं

होंगे। यदि आपके पास ये सब करने का समय नहीं है तो कच्चे लहसुन को खाने के ऊपर डाल लें। इससे इसकी पौष्टिकता बनी रहेगी।

३.  आयरन के लिए कास्ट आयरन पैन को इस्तेमाल करें, वैसे भी आयरन यानि लोहे के तत्व से मिश्रित फूड लेने से हमारे शरीर में ब्लड की मात्रा बढ़ती है।

एसिडिक सब्जी व् फलों को कास्ट आयरन पैन में पकाने से एनर्जी की बूस्टिंग आयरन की मात्रा दो हजार फीसदी

तक बढ़ जाएगी, टैक्सास टेक् युनिवर्सिटी की स्टडी के अनुसार। हेल्दी टिफिन सर्विस सोलफूड की न्यूट्रिशनिस्ट

सोनाली सबरवाल के कहे अनुसार कास्ट आयरन में खाना बनाना नुकसानदायक नहीं है, बल्कि पैन में खाना बनाने से कुछ आयरन खाने में मिक्स हो जाता है, इससे खाने के स्वाद में कोई फर्क नहीं आता है।

४.  हर्ब्स डालने से सलाद में बढ़ेंगे एंटीऑक्सीडेंट

सलाद में हर्ब्स  डालने से  एंटी  ऑक्सीडेंट्स की मात्रा दोगुनी हो जाएगी। इसमें अदरक और क्युमिन डालने  डालने से भी एंटी ऑक्सीडेंट्स बढ़ने लगते हैं।

५.  टमाटर को गर्म करके खाना

टमाटर को तवे पर गर्म करके खाने से उसमे मौजूद दिल के लिए हेल्दी न्यूट्रियंट्स को एब्जॉर्ब करने में आसानी

होगी, इसीलिए बाकी सॉस की अपेक्षा टोमेटो सॉस  को फायदेमंद खा जाता है। यह रेसिपी भी टॉय कीजिये।  टमाटर को काने के बाद बेकिंग शीट रख लें, अब इनके ऊपर थोड़ा ऑलिव आयल, नमक और काली मिर्च डालिए।  अब

इन्हें १५-२० की लिए बॉइल होने दें। ततपश्चात अब इन्हें खाना सेहतमंद होगा।

६.  सब्जी और फलों के छिलके ज्यादा पौष्टिक

सेब, गाजर, और ज्यादातर फल, सब्जियों को छीलकर न खाएं। इनके आउटर स्किन में में कहीं  ज्यादा न्यूट्रियंट्स

होते हैं। फाइबर का कंटेंट भी ज्यादा होता है। हमेशा ऑर्गेनिक खाद्य पर्दार्थ खरीदें। जिससे आउटर लेयर खाने में कोई परेशानी न आये। पेस्टीसाइड या गंदगी को साफ करने की लिए फल, सब्जियों को खुले पानी में धोने के बाद खाएं।

७.  बड़े पीस खाने से बढ़ा फायदा

फल, सब्जियां काटते समय उनका साइज बड़ा रखें।  छोटे पीस से न्यूट्रियंट रिच ऑक्सीजन निकल जाती है।

बड़े पीस में विटामिन सी लम्बे समय तक रहता है। इससे इम्युनिटी बेहतर बनती  है। फल और सब्जियों को

काटते ही बनाइए, नहीं तो उनसे मिलने वाले न्यूट्रियंट्स कम होने लगते हैं।  

%d bloggers like this: